क्षेत्र पंचायत और जिला पंचायत वाले ना हों खुश, केवल प्रधानों के लिए है कोर्ट का फैसला


देहरादून: होईकोर्ट ने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर जो फैसला सुनाया है। उसके बाद जिला पंचायत और क्षेत्र पंचायत में कई नये प्रत्याशी सामने आए थे, लेकिन अब कोर्ट के फैसले को लेकर जो बातें सामने आई हैं। उससे एक बार फिर से जिला पंचायत और क्षेत्र पंचायत का चुनाव लड़ने वालों के सपने चक्नाचूर हो सकते हैं। दरअसल, कोर्ट का फैसला केवल ग्राम प्रधान और पंचायद सदस्यों के लिए है।


होईकोर्ट ने पंचायतीराज संशोधन अधिनियम की धारा-8-1-आर पर फैसला सुनाया है। यह धारा केवल ग्राम पंचायत प्रधान और ग्राम पंचायत सदस्यों पर लागूं होता है। क्षेत्र पंचायत सदस्यों के लिए यह प्रावधान पंचायत राज संशोधन अधिनियम की धारा-53 और ग्राम पंचायत के लिए धारा-90 में हैं। इसको लेकर पंचायत राज विभाग ने सभी जिलों को एडवाइजरी जारी की है।


क्षेत्र पंचायत और जिला पंचायत वाले ना हों खुश, केवल प्रधानों के लिए है कोर्ट का फैसला क्षेत्र पंचायत और जिला पंचायत वाले ना हों खुश, केवल प्रधानों के लिए है कोर्ट का फैसला Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Friday, September 20, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.