शर्मनाकः केदारनाथ आपदा में बहुगुणा, मोरी-आराकोट आपदा में त्रिवेंद्र ने भरी दिल्ली की उड़ान

17 लोगों की मौत। पूरा उत्तराखंड सदमें है। लोगों को केदारनाथ का मंजर याद आ रहा है। लोग डरे और सहमे हुए हैं। किसी के घर तबाह हो गए। किसी को पूरा परिवार उजड़ गया। किसी का जिगर का टुकड़े को आपदा ने लील लिया। हर तरफ बस रुदन ही रुदन सुनाई पड़ रहा है। लोगों में चीख-पुकार मची है। लोग इतने सहमे हुए हैं कि वो किसी भी वक्त चिल्ला पड़ रहे हैं। हर कोई उनकी मदद को तैयार है। दिल्ली से मदद उत्तराखंड के लिए रवाना होने को है और मुख्यमंत्री दिल्ली की ओर रवाना हो गए। इससे महान और पुण्य का कार्य भला और क्या हो सकता है कि राज्य में 17 लोगों की मौत हो गई। कई लापता हैं और मुख्यमंत्री दिल्ली यात्रा पर हैं। नंबर जो बढ़ाने हैं। 


ठीक है कि पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली की तबीयत नासाज है। उनको देखने जाना चाहिए, लेकिन क्या ये यही वक्त था ? राज्य आपदा की मार से कराह रहा है। आपदा से राज्य के 50 हजार से अधिक लोग प्रभावित हैं। हिमाचल से भी मदद मिल रही है। राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी पहले कह चुके हैं कि केंद्र सरकार पूरी मदद करेगी। दूसरे राज्य के लोग भी मदद के लिए तैयार हैं। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्रद सिंह रावत ने संवेदनहीनता की सारे हदें पार कर दी। मोरी, आराकोट, डगोली, टिकोची, दुचाणु, त्यूनी समेत कई जगहों आपदा ने भारी तबाही मचाई है। लेकिन, मुख्यमंत्री 17 लोगों की मौत भुलाकर दिल्ली रवाना हो गये।

हद होती है हर बात की। 17 लोगों की मौत की पुष्टी हो चुकी है। कई लोग अब भी लपता बताए जा रहे हैं। एक अनुमान के तहत मौत का मामला करीब 20 से 25 तक पहुंच सकता है। उन सबकी चिंता छोढ़कर सीएम दिल्ली रवाना हो गए। पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली इसीएमओ पर हैं। उनको देखने के लिए भाजपा के कई बड़े नेता हैं। एम्स के बड़े डाॅक्टर हैं। सीएम साबह को अगर नंबा बढ़वाने ही थे, तो आपदा पीड़ितों के लिए अच्छा काम करके भी बढ़वा सकते थे। उन परिवारों का दुख बांटकर लोगों की संवेदनाएं तो मिलती ही। साथ ही कुछ दुवाएं भी मिलती।
शर्मनाकः केदारनाथ आपदा में बहुगुणा, मोरी-आराकोट आपदा में त्रिवेंद्र ने भरी दिल्ली की उड़ान शर्मनाकः केदारनाथ आपदा में बहुगुणा, मोरी-आराकोट आपदा में त्रिवेंद्र ने भरी दिल्ली की उड़ान Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Monday, August 19, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.