दुर्गम में शिक्षा को सुगम बनाने की साधना में जुटे हैं दिनेश रावत

गडोली (उत्तरकाशी): नौगांव ब्लाक के कोटी गांव (बनाल) निवासी दिनेश रावत पिथौरागढ़ के मेतली विद्यालय में तैनात हैं। स्कूल तक पहुंचने के लिए उनको सड़क से 8 से 10 किलोमीटर की चढ़ाई चढ़नी पड़ती है। इतना ही नहीं उत्तरकाशी के रवांई से दिनेश को अपने तैनाती स्थल तक पहुंचने में करीब दो-तीन दिन लग जाते हैं। अति दुर्गम के विद्यालय में तैनाती के बावजूद वो अपने स्कूल में तो शिक्षा की राह आसान कर ही रहे हैं। अपने शोध कार्यों के जरिए प्रदेशभर के बच्चों की शिक्षा की राह भी आसान कर रहे हैं। उनको हाल ही में उत्तकृष्ट शिक्षक सम्मान से भी नवाजा गया। 


राष्ट्रीय युवा पुरस्कार समेत कई हासिल कर चुके दिनेश रावत स्कूल के अलावा भी प्रदेशभर के विद्यालयों के लिए तैयार किए जाने वाले शैक्षिक गतिविधियों के लिए भी समय देते हैं। साथ ही शिक्षक ट्रेनिंग प्रोग्राम बनाने में भी शिक्षा विभाग में योगदान देते रहते हैं। इसके लिए वो कई बार पिथौरागढ़ से देहरादून और दूसरी जगहों की दौड़ लगाते रहते हैं। बच्चों को नवाचारी शिक्षा को लेकर दिनेश रावत कई तरह से बच्चों को पढ़ाते हैं। 

नई राहें के जरिए उन्होंने अपने अति दुर्गम के विद्यालय के बच्चों में लेखन का रुचि की जगाई। उनके विद्यालय की पहली बार पत्रिका प्रकाशित हुई। पत्रिका में बच्चों के लेखों के अलावा कई प्रसिद्ध लेखकों और विचारकों के लेख भी शामिल किए गए थे। स्कूल को सजाने से लेकर बच्चों को अपनी संस्कृति के प्रति भी जागरूक करते रहते हैं। उन्होंने विद्यालय में नए बच्चों के प्रवेश के लिए अभियान भी चलाया। इतना ही नहीं। बच्चों के स्वागत के लिए भव्य कार्यक्रम तक आयोजित किए।

अपनी संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए लगातार प्रयासरत रहते हैं। वो टीम रवांई लोक महोत्सव के भी अहम अंग हैं। महोत्सव के लिए पिथौरागढ़ से आकर संचालन का पूरा जिम्मा संभालना संस्कृति के प्रति उनके समर्पण को दर्शाता है। दिनेश रावत की अब तक चार पुस्तकें भी सामने आ चुकी हैं, जिनमें तीन कविता संग्रह और एक रवांई के लोक के इतिहास पर आधारितर है। इसके अलावा देश की कई बड़ी पत्रिकाओं में उनके लेख छपते रहते हैं।

दुर्गम में शिक्षा को सुगम बनाने की साधना में जुटे हैं दिनेश रावत दुर्गम में शिक्षा को सुगम बनाने की साधना में जुटे हैं दिनेश रावत Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Saturday, July 13, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.