जिंदगी चुनें, मौत की सेल्फी नहीं: दुनियाभर में भारत में सेल्फी लेते वक्त सबसे ज्यादा मौतें

...प्रदीप रावत (रवांल्टा)
सेल्फी। मतलब कई तरह की शक्लें बनाकर जो फोटो ली जाती है। उसे सेल्फी कहा जाता है। बाकी नहीं पता। जो अनुभव किया, वही आपको बता रहा हूं। सेल्फी के चक्कर में लोग आजकल कुछ ज्यादा की पड़ गए हैं। कई तो हाथ-पैर तुड़वा रहे हैं और कई सीधे काल के गाल में समा रहे हैं। ये सेल्फी इतनी खतरनाक है। फिर भी लोग हैं कि मानते ही नहीं। किसी का मुंह पिचका हुआ नजर आता है, तो कोई मुंह फुलाकर खड़ा नजर आता है। एक ट्रेंड और चल पड़ा है। खतरनाक जगहों पर खड़े होकर सेल्फी लेनेका। यही खतरा लोगों का जन का दुश्मन बना हुआ है, लेकिन कोई मानने को तैयार ही नहीं कि सेल्फी, सेल्फ की ही दुश्मन बन गई है। दुनियाभर में सेल्फी लेने से सबसे ज्यादा मौतें भारत में ही हुई हैं। पूरी रिपोर्ट पढ़े और खुद तय किरें कि सेल्फी कब, कैसे औ कहां लेनी चाहिए।

सेल्फी का बढ़ता क्रेज, खतरनाक होता जा रहा है। सेल्फी के लिए लोग अपनी जान तक को दांव पर लगा दे रहे हैं। उत्तराखंड में पिछले दो दिनों में सेल्फी के चक्कर में तीन मौतें हो चुकी हैं। दुनियाभर में किये गए रिसर्च के मुताबिक सेल्फी लेते वक्त होने वाली मौतों में भारत नंबर एक है। भारत केरूस, अमेरिका और पाकिस्तान है। एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 2011 से 2017 तक 259 लोग सेल्फी लेने की चक्कर में अपनी जान गवां बैठे थे। 2017 से 2019 तक भी करीब 150 लोग सेल्फी लेते वक्त अपनी जान गवां चुके हैं। 

सेल्फी के कारण अभी तक करीब 200 लोगों की मौत के आंकड़ा सामने आ चुका है। रिपोर्ट की मानें तो सेल्फी लेने में महिलाएं सबसे आगे हैं, हालांकि महिलाएं सेल्फी के लिए जान जोखिम में डालने में घबराती हैं। देश में कई शहरों में खतरनाक जगहों पर नो-सेल्फी जोन तक बना दिए गए हैं। लेकिन, उत्तराखंड में अब तक इस तरह की पहल नहीं की गई है। पुलिस को नो सेल्फी जोन भी बनाने चाहिए और उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए।
जिंदगी चुनें, मौत की सेल्फी नहीं: दुनियाभर में भारत में सेल्फी लेते वक्त सबसे ज्यादा मौतें जिंदगी चुनें, मौत की सेल्फी  नहीं: दुनियाभर में भारत में सेल्फी लेते वक्त सबसे ज्यादा मौतें Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Monday, July 01, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.