भारी पड़ सकते हैं अगले 24 घंटे, चमोली और अल्मोड़ा में बादल फटने के बाद फिर से रेड अलर्ट

Deharadun : मौसम विज्ञानियों ने उत्तराखंड में मानसून के देरी से आने का पूर्वानुमान लगाया था, लेकिन जिस तरह से अचानक मौसम ने करवट बदली है। उससे लगता है कि इस बार मानसून जून के पहले सप्ताह में ही दस्तक दे चुका है। बीती रात चमोली के लाबगड़ और अल्मोड़ के चैखुटिया में बादल फटने से भारी तबाही हुई है। वहीं बागेश्वर में आकाशीय बिजली गिरने से कई-भेड़ बकरियों की मौत हो गयी। इधर, मौसम विभाग ने फिर से बारी बारिश और ओलावृष्टि का रेड अलर्ट जारी किया है। शासन ने भी एसडीआरएफ को अलर्ट पर रहने के निर्देश जारी किए हैं।

सोमवार सुबह यानि आज से अगले 24 घंटे के दौरान तेज आंधी, ओलावृष्टि और बिजली गिरने की आशंका है। इसे लेकर मौसम विभाग ने रेड अलर्ट जारी किया है। अगले पांच दिनों तक तापमान में गिरावट आने के आसार हैं। इससे लोगों गर्मी से राहत मिल सकती है।  मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार प्रदेशभर में हल्की बारिश की संभावना है। तापमान में दो से चार डिग्री तक की गिरावट का अनुमान है। मौसम विभाग ने अगले छह दिनों का पूर्वानुमान जारी किया है। इसके तहत सोमवार को प्रदेश में कई हिस्सों में बादल छा सकते हैं। 
कुछ हिस्सों में तेज आंधी, ओलावृष्टि और बारिश हो सकती है। बारिश की वजह से तापमान 38 डिग्री से गिरकर 34 डिग्री तक आ सकता है। पर्वतीय इलाकों के साथ ही मैदानी क्षेत्रों में भी बारिश और ओलावृष्टि से गर्मी से राहत मिलने के आसार हैं।
भारी पड़ सकते हैं अगले 24 घंटे, चमोली और अल्मोड़ा में बादल फटने के बाद फिर से रेड अलर्ट भारी पड़ सकते हैं अगले 24 घंटे, चमोली और अल्मोड़ा में बादल फटने के बाद फिर से रेड अलर्ट Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Monday, June 03, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.