दांव पर यात्रा और यात्री, ऑलवेदर रोड बनी रोड़ा, नदी में बना दी रोड

गौरीकुंड : गौरीकुंड-केदारनाथ हाईवे पर यात्रियों की जान दांव पर लगी है। यहां ऑल वेदर रोड का काम चल रहा है, जिसके लिए निर्माण एजेंसी ने मंदाकिनी नदी का रुख मोड़ कर नदी में ही सड़क बना डाली। नदी के किनारे बनी इस सड़क पर हर दिन 2 से तीन हजार वाहन सरपट दौड़ रहे हैं। नदी का बहाव बढ़ने पर जहां, यात्रा पर पूरी तरह ब्रेक लग जाएगा। वहीं, इस मार्ग पर चलने वाले वाहनों में सवार यात्रियों की जान भी खतरे में पड़ जाएगी।


बांसवाड़ा में चल रहा ऑलवेदर रोड का निर्माण कार्य केदारनाथ यात्रा पर भारी पड़ सकता है। हाई-वे बनाने के लिए मंदाकिनी का रुख मोड़कर नदी के करीब 200 मीटर हिस्से को सड़क में तब्दील कर दिया गया। निर्माण एजेंसी की मानें तो मानसून आने से पहले यहां हाईवे की कटिंग का काम पूरा कर लिया जाएगा। लेकिन, जिस तरह से काम किया जा रहा है। उससे इस काम के जल्द पूरा होने की उम्मीद कम ही नजर आ रही है। 
मानसून  दस्तक दे चुका है।  उत्तराखंड में भी जून के आखिरी सप्ताह से  प्रीमानसून शुरू हो जाएगा,  जबकि जुलाई के पहले सप्ताह से मानसून के उत्तराखंड में पूरी तरह से पहुंचने का अनुमान लगाया गया है। अगर मानसून सही समय पर आया  तो तय मानिए  मंदाकिनी नदी पर बना अस्थाई मार्ग पूरी तरह से बह जाएगा, जिसका सीधा असर केदारनाथ यात्रा पर पड़ेगा। इन दिनों तापमान भी चरम पर है, जिससे  ग्लेशियरों के पिघलने का दौर भी शुरू हो गया है। नतीजतन मंदाकिनी समेत दूसरी नदियों का जलस्तर भी बढ़ने लगा है। इससे बांसवाड़ा के पास मंदाकिनी नदी पर बने अस्थाई मार्ग के लिए खतरा पैदा हो गया है। खतरा केवल मार्ग के लिए ही नहीं, बल्कि केदारनाथ यात्रा पर भी है। 
दांव पर यात्रा और यात्री, ऑलवेदर रोड बनी रोड़ा, नदी में बना दी रोड दांव पर यात्रा और यात्री, ऑलवेदर रोड बनी रोड़ा, नदी में बना दी रोड Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Monday, June 17, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.