अल्मोड़ा और चमोली में बादल फटने से भारी तबाही

Almoda/Chamoli|Bageshwar : मौसम विभाग ने प्रदेश में मानसून के देरी से आने का पूर्वानुमान लगाया था। लेकिन, एक दिन पहले ही मौसम विभाग में अलर्ट जारी किया था कि अगले एक-दो दिनों के भीतर प्रदेश में आकाशीय बिजली गिर सकती है। साथ ही कुछ स्थानों पर तेज बारिश भी हो सकती है। मौसम विभाग का पूर्वानुमान सटीक साबित हुआ। 


अब तक मिली खबरों के अनुसार अल्मोड़ा और चमोली में दोनों जगहों पर बादल फटने से भारी तबाही हुई है। जबकि बागेश्वर में आकाशीय बिजली गिरने से बड़ी संख्या में भेड़-बकरियों के मरने की सूचना है। बादल फटने से अब तक नुकसान की कुछ खबरें आई हैं।हालांकि अभी तक शासन की ओर से आधिकारिक सूचनाएं जारी नहीं की गई हैंं।

गैरसैंण ब्लाक के दूरस्थ गांव लामबगड क्षेत्र में भारी बारिश और अतिवृष्टि के बीच बादल फट गया। इसमें एक व्यक्ति के लापता हो गया। बाद में उसका शव बरामद हो गया। मृतक का नाम बादर सिंह (85) बताया जाता है। बादल फटने से सडक़ मार्ग बंद हो गया है। खेतों को भारी नुकसान पहुंचा है। एक पुलिया भी क्षतिग्रस्त हो गई है। पुलिस व प्रशासन मौके के लिए रवाना हो चुका है। 


उधर अल्मोड़ा के चौखुटिया के खाड़ी में अचानक सूखी नदी में बाढ़ का उफान नजर आने से लोगों में चीख-पुकार मच गई । इससे पहले कि लोग कुछ समझ पाते नदी में मौजूद पशु बाढ़ के उफान में बह गए। जानकारी के अनुसार बादल फटने से कई पशुओं की बहने से मौत हो गई है। हालांकि अभी तक अधिकारिक जानकारी सामने नहीं आई है। बादल फटने के कारण उफान पर आई नदियों को देखते हुए प्रशासन ने हाई अलर्ट जारी कर दिया है। साथ ही एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमों को बचाव कार्य के लिए रवाना किया जा रहा है।
अल्मोड़ा और चमोली में बादल फटने से भारी तबाही अल्मोड़ा और चमोली में बादल फटने से भारी तबाही Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Sunday, June 02, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.