नगर निगम का फरमान, सूचना चाहिए तो जमा करो 49 हजार

हल्द्वानी : आरटीआई के तहत सूचना नहीं देने के लिए विभाग कई तरह के बहाने बनाते हैं या फिर सूचना मांगने वाले को भ्रमित करने वाली सूचनाएं दे देते हैं। लेकिन, नगर निगम हल्द्वानी-काठगोदाम ने सूचना देने के बजाय आरटीआई कार्यकर्ता को 49410  ₹ जमा कराने का फरमान सुना दिया।


दरअसल, आरटीआई कार्यकर्ता हेमंत गोनिया ने नगर निगम हल्द्वानी-काठगोदाम से भवनकर से जुड़ी जानकारी मांगी थी, जिसके जवाब में नगर निगम ने उनको सूचना देने के बजाय उनसे 49 हजार 4 सौ 10 रुपए की डिमांड की है। नगर निगम की ओर से जारी किए गए जवाब में कहा गया है कि सूचना देने के लिए नगर निगम में उपलब्ध सभी भवनकर के रजिस्टरों की छायाप्रति करानी होगी, जिस पर करीब 50,000 का खर्च आएगा। जवाब को देखकर आरटीआई कार्यकर्ता हैरान हैं। 


नगर निगम हल्द्वानी में भवन कर जमा कराने को लेकर निगम हमेशा ही फिसड्डी साबित हुआ है। साथ ही कई गड़बड़ियां भी समय-समय पर सामने आती रही हैं। आरटीआई कार्यकर्ता की मानें तो नगर निगम सभी तरह के दस्तावेजों का डाटा कंप्यूटर में फीड करता है। अगर नगर निगम को सूचना देनी होती तो कंप्यूटर में दर्ज रिकॉर्ड का प्रिंट करा कर भी दे सकता था। लेकिन, निगम ने आरटीआई कार्यकर्ता को रजिस्टरों की फोटो कॉपी देने के लिए उन ₹49410 की मांग कर दी। नगर निगम ने भवन कर के रूप में लोगों पर बकाया वसूली के जवाब नहीं बताया  कि निगम ने कहा कि गत वर्ष करीब ₹70 लाख की वसूली कर ली है।
नगर निगम का फरमान, सूचना चाहिए तो जमा करो 49 हजार नगर निगम का फरमान, सूचना चाहिए तो जमा करो 49 हजार Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Thursday, May 16, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.