बर्फीली टनल से हेमकुंड साहिब गुरुद्वारे तक पहुंचेंगे यात्री

देहरादून: हेमकुंड साहिब की यात्रा पर आने वाले यात्रियों को इस बार खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। हेमकुंड साहिब में करीब 10 फीट तक बर्फ जमी है। मंदिर तक पहुंचने का रास्ता अब भी बंद है। इस रास्ते को खोलने का मतलब मुसीबत को मोल लेना है। इसको देखते हुए अब गुरुद्वारे तक पहुंचने के लिए तीन मीटर की टनल बनाने का निर्णय लिया गया है। गुरुद्वारे तक पहुंचने के लिए श्रद्धालुओं को बर्फीली टनल से होकर गुजरना पड़ेगा।


हेमकुंड साहिब की यात्रा एक जून से शुरू होगी। यात्रा मार्ग पर पड़ने वाले गुरुद्वारों में यात्रा की तैयारियां चल रही हैं। हेमकुंड साहिब आस्था पथ अभी भी तीन किलोमीटर तक बर्फ में ढका है। सेना के जवान बर्फ हटाने का काम कर रहे हैं। खून जमा देने वाली ठंड के बीच सेना के जवान और सेवादार लगातार काम पर जुटे हैं।

मौसम खराब होने से यात्रा शुरू होने तक पूरी तरह से बर्फ हटाना चुनौती से कम नहीं है। इसको देखते हुए गुरुद्वारे तक पहुंचने के लिए करीब तीन मीटर तक बर्फ को काटकर टनल बनाई जा जाएगी। इससे गुजर कर तीर्थयात्री गुरुद्वारे में मत्था टेकने पहुंचेंगे। हेमकुंड सरोवर भी अभी तक पूरी तरह से बर्फ में जमा हुआ है।

बर्फीली टनल से हेमकुंड साहिब गुरुद्वारे तक पहुंचेंगे यात्री बर्फीली टनल से हेमकुंड साहिब गुरुद्वारे तक पहुंचेंगे यात्री Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Monday, May 13, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.