सलाम: बस चलाते हुए ड्राइवर को आया हार्ट अटैक, खुद की मौत हो गई पर 30 यात्रियों की जान बचा गए

उत्तरकाशी: आज एक ऐसी घटना हुई, जिसने सबको चौंका दिया। एक ऐसी घटना जिसमें चालक की मौत हो गई, लेकिन मरने से पहले वो 30 जानों को बचा गए। बस के ड्राइवर की जजबे को हर कोई सलाम कर रहा है, लेकिन उसकी मौत पर लोग गमगीन भी हैं।
गंगोत्री यात्रा पर आए गुजरात से यात्रियों को लेकर आए बस चालक को अचानक हार्ट अटैक आ गया, जिससे उसकी मौत हो गई। लेकिन, मरने से पहले उन्होंने बस को रोक दिया। गुजरात के तीस यात्रियों की जान आज एक बस चालक ने अपनी जान गंवाकर बचाई। बस चालक भारत सिंह पंवार को चलती बस में हार्ट अटैक आ गया, जिससे उनकी मौत हो गई। मरने से पहले चालक ने बस को रोक दिया। इस तरह एक बड़ा हादसा टल गया। गंगोत्री धाम यात्रा पर आये गुजरात, सूरत के 30 यात्री अपनी गंगोत्री के दर्शन कर लौट रहे थे।भरत पवांर ऋषिकेश के निवासी हैं। 

भटवाड़ी के पास बस चालक की तबीयत बिगड़ने लगी। चालक ने पूरे संयम और बहादुरी से बस को किनारे किया। हालत ज्यादा खराब होने पर बस में सवार कुछ यात्री, बस परिचालक व भटवाड़ी के ग्राम प्रधान संजीव नौटियाल ने बस चालक को स्वास्थ्य केंद्र भटवाड़ी ले गये। लेकिन तब तक वो दम तोड़ चुके थे। बस चालक ने अपनी जान तो गवां दी, लेकिन 30 यात्रियों की जान बचा गए।





Source.... Creative news express
सलाम: बस चलाते हुए ड्राइवर को आया हार्ट अटैक, खुद की मौत हो गई पर 30 यात्रियों की जान बचा गए सलाम: बस चलाते हुए ड्राइवर को आया हार्ट अटैक, खुद की मौत हो गई पर 30 यात्रियों की जान बचा गए Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Tuesday, May 14, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.