रिश्तों के चक्रव्यूह में फ़ंसे राजनीति के महायोद्धा

कोटद्वार : गढ़वाल लोकसभा सीट पर चुनावी रंग अब धीरे-धीरे परवान चढ़ने लगा है। भाजपा के उम्मीदवार तीरथ सिंह रावत पूर्व मुख्यमंत्री और गढ़वाल सांसद भुवन चंद खंडूरी के राजनीतिक पुत्र कहलाए जाते हैं। वहीं, दूसरी ओर कांग्रेस के उम्मीदवार मनीष खंडूरी उनके पुत्र हैं। कांग्रेस ने मनीष खंडूरी को टिकट देकर भाजपा की मुश्किलें बढ़ाने का काम कर दिया है। भाजपा के लिए राहत की बात ये है कि कर्नल अजय कोठियाल ने निर्दलीय चुनाव लड़ने का मन छोड़ दिया है।


राजनीति के महायोद्धा जनरल खंडूड़ी फिलहाल रिश्तोंं के चक्रव्यूह में फंसे नजर आ रहे हैं। एक तरफ वह तीरथ सिंह रावत है, जिन्हें वह अपना बड़ा बेटा कहते हैं। और दूसरी तरफ उनके अपने बेटे मनीष खंडूड़ी खड़े हैं। जनरल खंडूड़ी के सामने परेशानी यह है कि बेटा उनके विचारधारा के विपरीत खड़ी कांग्रेस के उम्मीदवार हैंं और मुंह बोला बेटा तीरथ सिंह रावत उनकी रगों में समाई अपनी पार्टी भाजपा के उम्मीदवार हैं। जनरल खंडूड़ी दोनों की ही चुनावी वैतरणी को पार लगाना चाहते हैं ।लेकिन, परेशानी यह है कि वह अपने दोनों बेटों में से किसके पक्ष में खड़े होंगे। देखना यह होगा कि जनरल खंडूड़ी रिश्तोंं के चक्रव्यूह से किस तरह बाहर निकलते हैं।
कांग्रेस के मनीष खंडूड़ी पूरे जोर-शोर के साथ अपने पिता की राजनीतिक पुत्र तीरथ सिंह रावत को टक्कर देने के मूड़ में हैं। कोटदार पहुंचे मनीष ने कहा कि उनके पिता खंडूड़ी बेहद ईमानदार व्यक्ति है़ंं और उनका आशीर्वाद मेरे साथ है। उन्होंने कहा कि पिता का आशीर्वाद किसी भी पुत्र के लिए सबसे महत्वपूर्ण होता है। अगर बात भाजपा की करें तो भाजपा ककेउम्मीदवार और भाजपा के राष्ट्रीय सचिव तीरथ सिंह रावत मजबूत संगठन और राजनीतिक गुरु के सहारे नैया पार लगाने की कोशिश में जुटे हुए हैं। भाजपा ने भुवन चन्द्र खंडूरी को मनीष के खिलाफ स्टार प्रचारक बनाया है। 

यह लड़ाई बेहद दिलचस्प होती चली जा रही है। अगर राजनीतिक पंडितों की मानें तो उनका कहना है कि उत्तराखंड की राजनीति के महायोद्धा भुवन चंद्र खंडूरी अब इस लड़ाई के बीच में खड़े हैं। उनका आशीर्वाद जिसको भी प्राप्त होगा। वह इस लड़ाई में पार हो जाएगा। अब देखना यह है कि उनका आशीर्वाद किस बेटे पर फलित होता है। 
रिश्तों के चक्रव्यूह में फ़ंसे राजनीति के महायोद्धा रिश्तों के चक्रव्यूह में फ़ंसे राजनीति के महायोद्धा Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Sunday, March 24, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.