सुरेंद्र सिंह नेगी का एलान, नहीं लड़ेंगे चुनाव, मनीष के बहाने "खंडूड़ी हैं जरूरी"

देहरादून: पूर्व सीएम जनरल खंडूड़ी के बेटे के कांग्रेस में शामिल होने की चर्चाएं होने के साथ ही कांग्रेस के दिग्गज नेता पूर्व स्वास्थ्य मंत्री सुरेंद्र सिंह नेगी ने लोकसभा चुनाव लड़ने से इंकार कर दिया है। इससे माना जा रहा है कि कांग्रेस ने भी यह मान लिया है कि उनके लिए इस बार "खंडूड़ी जरूरी हैं"। 2012 के विधानसभा चुनाव में भाजपा ने "खंडूड़ी हैं जरूरी" का नारा दिया था। उनके नाम पर भाजपा पूरे प्रदेश में अच्छी सीटें जीतकर लाई। एक सीट से भाजपा सरकार बनाने से चूक गई थी। उसका सबसे बड़ा कराण था, जनरल खंडूड़ी की हार। उनको उस चुनाव में किसी और ने नहीं, बल्कि सुरेंद्र सिंह नेगी ने ही हराया था, लेकिन अब सुरेंद्र सिंह नेगी ने मनीष खंडूड़ी का नाम सामने आते ही एलान किया कि वे लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे। अपना पूरा ध्यान चुनाव प्रचार कर पार्टी प्रत्याशियों को जिताने पर लगाएंगे। उन्होंने दावा भी किया कि कांग्रेस पांचों सीटों पर जीत हासिल करेगी।


2019 के चुनावी समर का एलान होते ही राजनीति दल अपनी-अपनी चालें चलने लगे हैं। कोई बजीर पर नजर गढ़ाए हुए है, तो कोई बजीर के सिपाहियों को अपने कब्जे में लेना चाहता है। जहां तक उत्तराखंड की बात है। शुरूआती दौर में कांग्रेस ने भाजपा को एक बड़ा झटका पूर्व सीएम के बेटे मनीष खंडूड़ी को कांग्रेस में शामिल कराकर दे दिया है। हालांकि इस बात की अब तक आधिकारिक पुष्टी नहीं हुई है। माना जा रहा है कि 16 मार्च को राहुल गांधी के तय कार्यक्रम में ही मयंक को आधिकारिक रूप ज्वाइन कराया जाएगा। खास बात ये भी है की खंडूरी को बीजेपी एक साल पहले ही रक्षा समिति से बहार का रास्ता दिखा चुकी है। उनको ऐसे वक्त में हटाया गया था, जबकि उनका कार्यकाल कुछ ही बचा हवा था

कांग्रेस की मानें तो उनके संपर्क में भाजपा के कई बड़े नेता हैं। इन्हीं बातों को लेकर भाजपा नेता सतपाल महाराज को दिल्ली में सफाई देनी पड़ी। उन्होंने उनके फोटो का गलत प्रयोग करने वाले लोगों पर कानूनी कार्रवाई करने की बात भी कही है। महाराज ने कहा कि वो भाजपा के साथ खड़े हैं और बने रहेंगे। लोकसभा चुनाव में भाजपा के लिए स्टार प्रचारक के रूप में काम करेंगे। कांग्रेस के दावों को देखकर लग रहा है कि उनके पास कुछ तो ऐसा है, जिसे भुनाने के लिए राहुल गांधी की रैली का इंतजार किया जा रहा है। देखना होगा कि आने वाले दिनों में भाजपा-कांग्रेस के बीच चुनावी समर में युद्ध किस तरह लड़ा जाता है और जोड़-तोड़ की इस लड़ाई में कौन जीत हासिल करता है।

सुरेंद्र सिंह नेगी का एलान, नहीं लड़ेंगे चुनाव, मनीष के बहाने "खंडूड़ी हैं जरूरी" सुरेंद्र सिंह नेगी का एलान, नहीं लड़ेंगे चुनाव, मनीष के बहाने "खंडूड़ी हैं जरूरी" Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Wednesday, March 13, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.