महाराज की महराज ही जानें...कार्यक्रम में फोटो दिखी पर महाराज नहीं

देहरादून: सतपाल महाराज और सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत के बीच की दूरियां कम होती नजर नहीं आ रही हैं। महाराज पिछले लंबे समय से सीएम से दूरी बनाए हुए हैं। महाराज काफी समय से अपने कार्यालय भी नहीं पहुंचे। ज्यादातर कैबिनेट बैठकों से दूरी बनाए रखी। अब हरिद्वार के एक कार्यक्रम में महाराज ने फिर से सीएम से दूरी बना ली। इस कार्यक्रम में महाराज की फोटो तो बैनर और पोस्टर से झांकती नजर आई, लेकिन महाराज खुद नदारद रहे। 


पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज की सीएम से दूरी अब साफ नजर आ रही है। आलम यह है कि उन्होंने सीएम के साथ सार्वजनिक कार्यक्रमों में आने से गुरेज करना शुरू कर दिया है। लोकसभा चुनाव में भाजपा के लिए सतपाल महाराज की नाराजगी परेशानी का सबब बन सकती है। दरअसल, सतपाल महाराज अपनी पत्नि अमृता रावत के लिए पौड़ी लोकसभा सीट से टिकट की मांग कर रहे हैं। हालांकि उन्होंने कभी सार्वजनिक रूप से अपनी इच्छा को जाहिर नहीं किया। 

पौड़ी लोकसभा सीट से महाराज सांसद रह चुके हैं। पौड़ी जिले से ही उनकी पत्नी पूर्व में और खुद सतपाल महाराज चैबट्टा खाल सीट से विधायक हैं। पौड़ी लोकसभा सीट पर उनका प्रभाव माना जाता है। महाराज लगातार पार्टी के राज्य में होने वाले कार्यक्रमों से अक्सर दूरी बनाए रखते हैं। जबकि कुंभ मेले में महाराज पार्टी के बड़े नेताओं के साथ मंचों पर खूब नजर आए। दिल्ली में होने वाले पार्टी के बड़े कर्यक्रमों में भी महाराज सक्रिय नजर आते हैं। इससे एक बात तो साफ है कि सतपाल महाराज की नाराजगी कोई हल्की-फुल्की नाराजगी नहीं है। 


दरअसल, पर्यटन विभाग में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत कुछ ज्यादा ही सक्रियता दिखाते हैं। पिछले साल पर्यटन विभाग के एक मेगा प्रोजेक्ट कार्यक्रम में पोस्टर पर सतपाल महाराज की फोटो विभागीय मंत्री होने के बावजूद नहीं लगाई थी। तब से ही महाराज लगातार नाराज चल रहे हैं। उनको कुछ अन्य कार्यक्रमों से भी दूर रखा गया। पर्यटन विभाग में कई ऐसे फैसले लिए गए, जिनका अनुमोदन विभागीय मंत्री होने के बावजूद महाराज से नहीं लिया गया। महाराज की ये नाराजगी भाजपा को लोकसभा चुनाव में खासी महंगी पड़ सकती है। देखना यह होगा कि केंद्रीय नेतृत्व से नजीदीकी दिखा रहे सतपाल महाराज खुद क्या भूमिका चाहते हैं और पार्टी उनको क्या भूमिका देती है।
महाराज की महराज ही जानें...कार्यक्रम में फोटो दिखी पर महाराज नहीं महाराज की महराज ही जानें...कार्यक्रम में फोटो दिखी पर महाराज नहीं Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Thursday, March 07, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.