व्हाट्सएप की चेतावनी, बंद कर दें फर्जी प्रचार...वरना बैन कर देंगे अकाउंट


नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव नजदीक आते ही सोशल मीडिया का इस्तेमाल प्रचार के लिए काफी जोर-शोर से किया जाने लगा है। चुनावी माहौल में व्हाट्सएप ने राजनीतिक दलों और नेताओं को चेतावनी जारी कर दी है कि सुधर जाएं। व्हाट्सएप सही प्रयोग करें, वरना बैन कर दिए जाओगे। व्हाट्सएप की ओर से कहा गया है कि राजनीतिक पार्टियां व्हाट्सएप का इस्तेमाल अपेक्षित तरीके से नहीं कर रही हैं। ऐसे में कंपनी ने खुले तौर पर चेतावनी दी है कि अगर राजनीतिक पार्टियां व्हाट्सएप का सही इस्तेमाल नहीं करती हैं तो उनके अकाउंट को लोकसभा चुनाव से पहले बंद कर दिया जाएगा।



देश में व्हाट्सएप यूजर्स की संख्या 230 मिलियन है। नई दिल्ली में व्हाट्सएप कम्युनिकेशन के हेड कार्ल वूग ने कहा कि हमने देखा है कि तमाम राजनीतिक पार्टियां इस एप का इस्तेमाल सही तरीके से नहीं कर रही हैं, ऐसे में उन्हें बैन का सामना करना पड़ सकता है। पिछले कुछ महीनों में हमने तमाम राजनीतिक पार्टियों से बात की। उनको बताया कि व्हाट्सएप ब्राॅडकास्ट का माध्यम नहीं है, यह बड़े स्तर पर मैसेज भेजने का प्लेटफॉर्म नहीं है। हमने इन लोगों को कहा है कि अगर इनके इस्तेमाल के तरीके में बदलाव नहीं, तो उनके अकाउंट को ब्लॉक कर दिया जाएगा। व्हाट्सएप की ओर से एक व्हाइट पेपर स्टोपिंग एब्यूज जारी किया है, जिसमें कहा गया है कि हमारी शीर्ष प्राथमिकता है कि व्हाट्सएप के इस्तेमाल को रोबोट के तौर पर इस्तेमाल होने से रोकना है। वैश्विक स्तर पर कंपनी की ओर से पिछले तीन महीने में 2 मिलयन यूजर्स को ब्लॉक किया गया है। कंपनी के पास दुनियाभर में कुल 1.5 बिलियन व्हाट्सएप यूजर्स हैं। कंपनी की ओर से कहा गया है कि हमने भारत के चुनाव आयोग और राज्य के चुनाव आयोग को भी इस बारे में जानकारी दी है।

व्हाट्सएप, फेसबुक की ही संबंधित कंपनी है और पिछले दिनों फेक खबरों की वजह से इसे काफी आलोचना का सामना करना पड़ा था। भारत में पिछले कुछ समय में व्हाट्सएप के जरिए फर्जी खबरें फैलाई गई जिसकी वजह से मॉब लिंचिंग की घटनाएं सामने आई थी। इस तरह के मामले सामने आने के बाद भारत सरकार ने व्हाट्सएप कंपनी से संपर्क साधा था और इस पर रोक लगाने की बात कही थी। व्हाट्सएप कंपनी की ओर से कहा गया है कि भारत में तकरीबन 90 फीसदी लोग इस ऐप का इस्तेमाल व्यक्तिगत तौर पर एक दूसरे को मैसेज भेजने के लिए करते हैं। अधिकतर ग्रुप में 10 से कम लोग हैं। बहुत ही कम ग्रुप हैं जिनमे सदस्यों की संख्या काफी अधिक है। व्हाट्सएप पर ग्रुप में अधिकतम 256 लोग हो सकते हैं।
व्हाट्सएप की चेतावनी, बंद कर दें फर्जी प्रचार...वरना बैन कर देंगे अकाउंट व्हाट्सएप की चेतावनी, बंद कर दें फर्जी प्रचार...वरना बैन कर देंगे अकाउंट Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Thursday, February 07, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.