हर त्योहार राह तकती थी मां...14 साल बाद लौट आया खोया हुआ बेटा

...चंद्रशेखर पैन्यूली
टिहरी : प्रतापनगर क्षेत्र के भदूरा पट्टी के कुड़ी गांव में आज लोग बेहद खुश हैं। गांव में जो हुआ, उसे लोग चमत्कार मान रहे हैं। वैसे यह घटना किसी चमत्कार से कम भी नहीं है। 14 सालों से लापता मनोज रावत आज अचानक घर जो लौट आया।

वो मनोज, जिसके आने के इंतजार में उसकी मांं की आंंखे हर त्यौहार पर नम हो जाती थी। जिसके आने के इंतजार में वर्षोंं उसकी मांं चुपके-चुपके रोती थी। उसकी राह तकती थी। उसके भाई-बहन अपने भाई के इस तरह जाने से उदास रहते थे। कई लोगों ने मनोज के लौटने की उम्मीदें भी छोड़ दी थी, लेकिन आज वो सकुशल घर आ पहुंचा। फिलहाल ये तो नहींं बताया कि वो इतने सालों तक कहा़ंं रहा। उसने क्या काम किया? फिलहाल मनोज के परिजनों और गांंव वालों में उसके सकुशल घर वापस आने से खुशी की लहर है।

आज एक बात का गम जरूर मनोज सहित उसके परिजनों को है कि उसके पिता अपने खोये हुए बेटे को देखने के लिए अब इस दुनिया में नही हैं। मनोज के बड़े भाई गढ़वाली एल्बमोंं में कई गीतों में एक्टर की भूमिका निभाने वाले तेजपाल रावत हैंं। मनोज रावत को ढूंढने में इनके परिजनों ने कोई कसर नहीं छोड़ी। काफी जगह दौड़ भाग की लेकिन तब मनोज इनको 
हर त्योहार राह तकती थी मां...14 साल बाद लौट आया खोया हुआ बेटा हर त्योहार राह तकती थी मां...14 साल बाद लौट आया खोया हुआ बेटा Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Thursday, February 07, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.