जाबांज शहीद चित्रेश बिष्ट को अंतिम सलामी देने सड़कों पर उतरा सैलाब

देहरादून : जम्मू-कश्मीर में शहीद 28 वर्षीय मेजर चित्रेश की शहादत पर हर कोई गमगीन है। चित्रेश की शहादत को सलामी देने पूरा देहरादून सड़कों पर उतर आया।  चित्रेश अमर रहे, जब तक सूरज चांद रहेगा, चित्रेश  तेरा नाम रहेगा, भारत माता की जय और वंदे मातरम के जयकारों से पूरी दून घाटी गूंज उठी। पाकिस्तान के विरोध में लोग पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगा कर रहे थे।

हर तरफ तिरंगे की आन-बान और शान के लिए लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। शहीद चित्रेश बिष्ट की अंतिम यात्रा उनके आवास से निकली। हरिद्वार के रास्ते में लोगों ने जगह-जगह शहीद को श्रद्धांजलि दी।लगातार हो रही शहादतों से लोग खासे नाराज हैं । आज ही सेना के मेजर सहित 4 जवान सीमा पर शहीद हो गए।
शहीद चित्रेश को सलामी देने जहां दून के लोग सड़को पर उतर आए। वहीं, सेना, पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारियों के साथ ही बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधियों और राजनीतिक दलों के नेताओं ने शहीद के आवास पर पहुंचकर परिजनों को ढांंढस बंधाया। मुख्यमंत्री त्रीवेंद्र सिंह रावत, टिहरी सांसद माला राज्य लक्ष्मी शाह, पूर्व सांसद तरुण विजय, विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल, काबीना मंत्री प्रकाश पंत, सुबोध उनियाल, विधायक मनोज रावत, विजय सिंह पंवार, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह, उत्तराखंड सब एरिया के डिप्टी जीओसी ब्रिगेडियर एचएस जग्गी, उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट, दून मेडिकल कॉलेज के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. केके टम्टा समेत कई लोग शामिल हैं।
मेजर चित्रेश बिष्ट का आज हरिद्वार में पूरे सैन्य सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार हरिद्वार में किया जाएगा।दून के रहने वाले मेजर चित्रेश बिष्ट शनिवार को आइईडी धमाकेमें शहीद हो गए थे। वर्ष 2010 में भारतीय सैन्य अकादमी से पास आउट मेजर बिष्ट सेना की इंजीनियरिंग कोर में तैनात थे। उनके पिता एसएस बिष्ट सेवानिवृत्त पुलिस इंस्पेक्टर हैं। सात मार्च को चित्रेश की  शादी थी और कार्ड भी बंट चुके थे।



जाबांज शहीद चित्रेश बिष्ट को अंतिम सलामी देने सड़कों पर उतरा सैलाब जाबांज शहीद चित्रेश बिष्ट को अंतिम सलामी देने सड़कों पर उतरा सैलाब Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Monday, February 18, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.