नरेश ने बढ़ाया रवांई का मान, मिला ‘‘देव भूमि रत्न’’ सम्मान

पहाड़ समाचार
      उत्तरकाशी के नौगांव ब्लाक के सुदूर गांव देवलसारी के नरेश नौटियाल। नरेश नौटियाल जितने साधारण हैं। उनकी सोच अपने स्थानीय उत्पादों और लोक संस्कृति के लिए उतनी ही असाधारण है। नरेश नौटियाल को रवांई समेत पूरे उत्तराखंड के स्थानीय उत्पादों को देश-दुनिया तक पहुंचाने के लिए उत्तराखंड पत्रकार यूनियन की ओर से देव भूमि रत्न अवार्ड से नवाजा गया। नरेश की खास बात यह है कि वो पहले हिमालयन एक्शन रिसर्च सेंटर में नौकरी करते थे, लेकिन उन्होंने नौकरी छोड़कर गांव की राह पकड़ी और अपने पहाड़ी उत्पादों पर काम शुरू कर दिया। आज नरेश नौटियाल देश के लगभग हर हिस्से में पहाड़ी उत्पादों के स्टाल लगा चुके हैं। देश के कई स्वयं सहायता समूह उनसे पहाड़ी उत्पाद मंगवा कर अपने राज्यों में उत्तराखंडी उत्पादों के नाम से बेचते हैं। 


नरेश ने साल तक हिमालयन एक्शन रिसर्च सेंटर (हार्क) में बतौर मार्केटिंग सुपरवाइजर की नौकरी की। 2009 में हार्क से रिजाइन कर दिया और देहरादून पहुंच गए। मार्केट को परेखने और कुछ जरूरी जानकारियां जुटाने के बाद वापस गांव लौट गए। उन्होंने पहाड़ी उत्पादों का काम अपने गांव से ही शुरू किया। फिर अपनी पत्नी लता नौटियाल के साथ मिलकर समूह के जरिए कलेक्शन किया। इसके बाद अलग-अलग गांवों में जाकर कोदा, झंगोरा, पहाड़ी दाल, अखरोट जैसे उत्पादों को लोगों से बाजार भाव में खरीदा और बड़े बाजारों में पहुंचाना शुरू किया। नरेश नौटियाल रवांई लोक महोत्सव के आयोजकों में एक ख़ास और मजबूत कड़ी हैं। महोत्सव आयोजन  के लिए नरेश अपना सारा काम तक छोड़ देते हैं।

नरेश नौटियाल ने देहरादून से लेकर मुंबई, दिल्ली, गुजरात, यूपी, हिमाचल अन्य राज्यों में पहाड़ी उत्पादों का स्वाद लोगों को चखा चुके हैं। आज नरेश के प्रयासों से पहाड़ी उत्पादों को देशभर में पहचान मिली है। नरेश लोगों के लिए भी प्रेरणा का काम कर रहे हैं। उनके पहाड़ी उत्पादों को खरीदने के बाद लोगों ने खेती की ओर भी रुख किया। उससे लोगों की आर्थिकी भी मजबूत हुई। कई और लोगों को भी अपने साथ जोड़कर रोजगार मुहैया कराया।
नरेश ने बढ़ाया रवांई का मान, मिला ‘‘देव भूमि रत्न’’ सम्मान नरेश ने बढ़ाया रवांई का मान, मिला ‘‘देव भूमि रत्न’’ सम्मान Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Sunday, January 27, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.