यूट्यूब से लेकर लोगों की जुबां तक छाया "कफुवा"

देहरादून : फोक और फ्यूजन के सुपर स्टार रजनीकांत सेमवाल। रजनीकांत सेमवाल का एक और गाना यूट्यूब से लेकर लोगों की जुबां तक छाया हुआ है। गाने ने रिलीज के कुछ घंटों में यूट्यूब पर 6 हजार से ज्यादा व्यूज हालिस कर लिए हैं। रजनीकांत सेमवाल का यह गाना हिमालय के राजा के नाम से मशहूर हजारों-लाखों लोगों की आस्था के केंद्र सोमेश्वर देवता के खास नृत्य "कफुवा" और उनकी यात्रा पर आधारित है। 
"कफुवा" गीत के जरिए रजनीकांत सेमवाल ने सोमेश्वर देवता की कश्मीर से लेकर गंगोत्री और अन्य जगहों की उनकी यात्रा को बताया है। गाने में बताया गया है कि किस तरह से सोमेश्वर देवता कश्मीर से होते हुए यमुना और गंगा घाटी में पहुंचे। वो जहां-जहां रुके वहां-वहां उनके थान बनाए गए, मंदिर बनाया गए। आज भी उन सभी जगहों पर उनकी पूजा की जाती है। सोमेश्वर देवता की बड़ी मान्यता है। 
रजनीकांत सेमवाल के इस गाने की एक खास बात और है, जिस पर शायद ही किसी का ध्यान जाता हो या फिर लोग ध्यान देते ही नहीं। गाने की 90 प्रतिशत शूटिंग वास्तवित कार्यक्रमों की है। शूटिंग के लिए अलग से कोई आयोजन नहीं कराया गया। गाने की शूटिंग सोमेश्वर देवता के मंदिरों में लगने वाले मेलों और पूजा में ही कई गई है। कफुवा भी शूट किया गया है। ड्रोन कैमरे का शानदार प्रयोग किया गया है। रजनीकांत सेमवाल का कहना है कि फोक हमारी संस्कृति की असल पहचान हैं। 




यूट्यूब से लेकर लोगों की जुबां तक छाया "कफुवा" यूट्यूब से लेकर लोगों की जुबां तक छाया "कफुवा" Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Wednesday, January 09, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.