ऑनलाइन नहीं मिल रहा "आयुष्मान" का "आशीर्वाद"

देहरादून: आयुष्मान योजना। प्रचार प्रसार से लेकर योजना के लाभ गिनाने तक में सरकार ने कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी। दावा किया गया कि योजना से प्रदेश के सभी परिवार जुड़ गए हैं। लोगों को ऑनलाइन पंजीकरण की सुविधा भी दी जा रही है। रोजाना खबरें भी आ रही हैं, कि आज इतने लोगों ने ऑनलाइन पंजीकरण कराया है। लेकिन, सवाल ये है कि जब वेबसाइट चल ही नहीं रही तो ऑनलाइन कैसे पंजीकरण हो रहा है। पंजीकरण तो दूर वेबसाइट में शिकायत भी नहीं हो पा रही है। कुलमिलाकर लोगों को अटल आयुष्मान योजना का ऑनलाइन आशीर्वाद नहीं मिल पा रहा है। 

आयुष्मान योजना की वेबसाइट पर विजीटर तो आ रहे हैं, लेकिन वेबसाइट ही काम नहीं कर रही है। ऑनलाइन पंजीकरण कराने के लिए क्लिक करते ही वेबसाइट पर बाद में चेक करने का मैसज दिखाई दे रहा है। एक-दो घंटे बाद फिर से लाॅगिन करने के बाद फिर से वही पुराना मैसेज रिपीट हो रहा है। जिससे लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। 

वेबसाइट पर बाकायदा एक नंबर भी दिया गया है, जिस पर फोन कर ऑनलाइन पंजीकरण से लेकर अन्य जानकारियां ली जा सकती हैं, लेकिन फोन पर कई बार काॅल करने के बावजूद किसीने फोन ही नहीं उठाया। इससे योजना को लेकर लारवाही साफ नजर आ रही है। सरकार के दावों की भी पोल खुल रही है। 

सरकार लगातार दावा कर रही है कि वेबसाइट को जल्द ठीक कर दिया जाएगा, लेकिन समस्या का समाधान नहीं हो पा रहा है। सवाल इसलिए भी खड़े हो रहे हैं कि जिस वेबसाइट में प्रदेश के प्रत्येक परिवार का डाटा फीड किया जाना है। उस वेबसाइट को सही ढंग से क्यों डिजाइन नहीं किया गया। वेबसाइट के काम नहीं करने से लोगों का ऑनलाइन पंजीकरण नहीं होने से खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। 


ऑनलाइन नहीं मिल रहा "आयुष्मान" का "आशीर्वाद" ऑनलाइन नहीं मिल रहा "आयुष्मान" का "आशीर्वाद" Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Saturday, January 05, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.