क्या आपने सुना है...सट्टेबाजों को "मुर्दे" करा रहे मालामाल

पहाड़ समाचार...
सट्टे बाजार और सट्टे के बारे में आप ने बहुत सुना होगा। नंबरों का हेर फेर कर कैसे सट्टा माफिया लाखों रुपये के वारे-न्यारे करते है। लेकिन, क्या कभी आप ने शमशान घाट पर आने वाले मुर्दों पर सट्टा लगाने की बात सुनी है। अगर नहीं सुनी है, तो हम आपको आज मुर्दों के सट्टे के बारे में बताते हैं कि कैसे मुर्दों से सट्टेबाज मालामाल हो रहे हैं। सीनियर जर्नलिस्ट हिमांशु बडोनी ने इसको लेकर फेसबुक पर एक रोचक पोस्ट शेयर की है। 

इस खबर में आप जानेंगे कि कैसे शमशान के मुर्दों पर सट्टे का खेल चल रहा है। सट्टे के लिए बदनाम हो चुके कोटद्वार शहर में शमशान पहुंचने वाले मुर्दो पर सट्टा कारोबारी 10-20 हजार का नहीं, बल्कि लाखों रुपये का सट्टा लगा रहे है। दरसअल, यह खेल शुरू होता है शमशान घाट पहुंचने वालों मुर्दों की गिनती से। 

सट्टा माफिया सटोरियों से शमशान पहुंचने वाले मुर्दों की गिनती पर लाखों रुपये का सट्टा लगते है। दिनभर में शमशान में अगर 5 मुर्दे पहुचंे और उस दिन का नंबर भी अगर 5 ही निकला तो सटोरियों की जेब में लाखों रुपये एक झटके में ही पहुंच जाते हैं। पुख्ता सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मुर्दों पर 1 से लेकर 9 नंबर तक सट्टा लगाया जा ता है। हर दिन नबरों का यह खेल बदलता रहता है। 

स्थानीय पुलिस को इस खेल की पूरी जानकारी है। पहले भी यह चर्चाओं में रहा। इसके पीछे किसी सफेदपोश के होने की चर्चाएं होती रही हैं। हालांकि जिले के पुलिस कप्तान तक अभी इस खेल की जानकारी नही पहुंची है। लेकिन, जिस तरह इन दिनों कानाफूसी हो रही है। उससे एक बात तो साफ है कि मुर्दों के शमशान में भी बहार आई हुई है। सट्टा माफिया लोगों की मौत का खेल खेलने में मशगूल हैं।
क्या आपने सुना है...सट्टेबाजों को "मुर्दे" करा रहे मालामाल क्या आपने सुना है...सट्टेबाजों को "मुर्दे" करा रहे मालामाल Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Sunday, December 16, 2018 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.