...जात पे ना पात पे, चालान मिलेगा हाथ पे

नोयडा: उत्तर-प्रदेश पुलिस ने एक अभियान शुरू किया है। पुलिस के इस अभियान को लोग काफी सराह भी रहे हैं। अक्सर कम ही होता है, जब लोग पुलिस की तारीफ करते हैं। यूपी पुलिस खासकर नोयडा पुलिस की आजकल सोशल मीडिया लेकर हर तरफ तारीफ हो रही है। नोयडा पुलिस ने एक जात पे ना, पात पे, चालान मिलेगा हाथ पे शुरू किया है। 


दरअसल, नोयडा और आपास के क्षेत्रों में ज्यादातर वाहनों पर जाट और गुर्जर लिखा रहता है। नगर प्लेट पर नंबर के अलावा कुछ भी नहीं लिखा जा सकता। ऐसे में पुलिस का यह अभियान खास माना जा रहा है। नोएडा पुलिस ने उन वाहनों के खिलाफ अभियान शुरू कर दिया है, जिनके नंबर प्लेट पर जाति लिखी होती है।  अब तक पुलिस जाटव, गुर्जर लिखे नौ कई वाहनों का चालान कर चुकी है। पुलिस लगातार शहर और ग्रामीण इलाकों में ऐसे वाहनों की तलाश कर कार्रवाई कर रही है। नोएडा, गाजियाबाद से लेकर पूरे एनसीआर में ऐसे तमाम वाहन चलते हैं, जिनके पीछे नंबर प्लेट या शीशे रप गुर्जर, जाट, जाटव आदि जातीय उपनाम लिखे होते हैं।

वाहन मालिक जातीय उप नाम लिखवाकर अपनी हनक साबित करना चाहते हैं। सड़क पर चलते वक्त किसी तरह का वाद-विवाद होने पर भी ऐसे वाहन मालिक खुद को स्थानीय और जाति बताकर लोगों को दबाव में लाने की कोशिश करते हैं। ऐसी तमाम शिकायतों के बाद यूपी पुलिस ने ऐसे वाहनों के खिलाफ अभियान चलाने का फैसला किया है। 

उत्तर-प्रदेश पुलिस के एडिशनल एसपी और ट्विटर हैंडल सर्विस देखने वाले राहुल श्रीवास्तव ने इस कार्रवाई को लेकर ट्वीट किया। उन्होंने जाटव और गुर्जर लिखे वाहनों की तस्वीरों के साथ लिखा जात पे न पात पे, चालान मिलेगा हाथ पे...। राहुल श्रीवास्तव ने इस कार्य के लिए नोएडा पुलिस को शाबासी भी दी। उनके इस ट्वीट पर सोशल मीडिया यूजर भी पुलिस की जमकर तारीफ कर रहे हैं।
...जात पे ना पात पे, चालान मिलेगा हाथ पे ...जात पे ना पात पे, चालान मिलेगा हाथ पे Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Saturday, November 17, 2018 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.