यौन उत्पीड़न मामले में फंसे भाजपा नेता, भाजपा प्रवक्ता ने साधी चुप्पी

देहरादून: प्रदेश सरकार और भाजपा भले ही महिलाओं के संरक्षण की बात करती हो। बेटी बढ़ाओ और बेटी बचाओ के नारे लगाती हो, लेकिन खुद भाजपा नेता खुद ही इन दावों की पोल खोलते नजर आ रहे हैं। ऐसा ही एक मामला देहरादून में भी सामने आया है। भाजपा के महामंत्री संगठन संजय कुमार पर भाजपा कार्यालय में तैनात पूर्व महिला कर्मचारी ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए हैं। पूरे मामले को लेकर जहां सूबे की पुलिस ने मौन धारण कर लिया। वहीं, भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता विनय गोयल भी मामले में चुप्पी साध गए हैं। महिला का कहना है कि मामले की शिकायत उनसे भी की गई थी, लेकिन अब विनय गोयल कह रहे है कि उनको कुछ नहीं कहने को कहा गया है। 


दरअसल, भाजपा कार्यालय में काम करने वाली एक महिला कर्मचारी पिछले छह माह से भाजपा महामंत्री संगठन के खिलाफ शिकायत लेकर भाजपा के कई बड़े पदाधिकारियों के पास जा चुकी है। बताया जा रहा है कि उसकी मदद करने के बजाय कुछ महिला पदाधिकारियों ने उसका वो फोन भी छीन लिया, जिसमें आरोपी के खिलाफ सारे सुबूत कैद हैं। महिला के सामने आने के बाद भाजपा कार्यालय इन दिनों खासी चर्चाओं में आ गया है। जानकारी के अनुसार पीड़ित महिला पिछले करीब 6 माह से भाजपा के प्रदेश पदाधिकारियों के चक्कर काट चुकी है, लेकिन कोई उसकी बात सुनने को राजी नहीं है। हालांकि अभी इस मामले की कहीं रिपोर्ट दर्ज नहीं की गयी है। इसे #MeToo से भी जोड़ कर दखा जा रहा है

सवाल सूबे की पुलिस पर भी खड़े हो रहे हैं। पीड़ित महिला की मानें तो वो कई बार पुलिस के पास जा चुकी है, लेकिन कोई उसकी सुनने को तैयार ही नहीं है। इस मामले में महिला वर्तमान भाजपा प्रदेश प्रवक्ता विनय गोयल जो, तब भाजपा महानगर अध्यक्ष थे के पास भी लेकर गई थी। उन्होंने भी महिला की बात नहीं सुनी। इस मामले में विनय गोयल से उनकी प्रतिक्रिया जानने का प्रयास किया गया तो, उन्होंने यह कहते हुए फोन काट दिया कि उनको मामले में कुछ भी बोलने से मना किया गया है। 

देखना यह होगा कि बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का नारा देने वाली भाजपा अपने आरोपी पदाधिकारी को कब तक बचा सकती है। अब तक मामले को जिस तरह से दबाने का प्रयास किया गया। उससे साफ है कि भाजपा इस पूरे मामले पर पर्दा डालने के प्रयासों में जुटी हुई थी। हालांकि अब मामला सामने आ चुका है। ऐसे में देखना यह होगा कि सरकार और संगठन कब तक कानून को अपना काम करने से रोकते हैं, या फिर संगठन खुद ही आरोपी महामंत्री संगठन पर कार्रवाई करता है।
यौन उत्पीड़न मामले में फंसे भाजपा नेता, भाजपा प्रवक्ता ने साधी चुप्पी यौन उत्पीड़न मामले में फंसे भाजपा नेता, भाजपा प्रवक्ता ने साधी चुप्पी Reviewed by पहाड़ समाचार www.pahadsamachar.com on Saturday, November 03, 2018 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.